गरीब की बिल्डिंग गिरेगी। रिश्वत दे सकने वाले की encroachment नहीं गिरेगी।

धोबी बाज़ार, main बाज़ार में रोज लोग पर्दा सा लगा कर, कानून तोड़ कर, बिना कोई जगह छोड़े buildings बनाते जा रहे हैं। उनको कोई हाथ भी नहीं लगा सकता, क्यूँकि उन्होंने पक्के में और कच्चे में लाखों रुपये दिए होते हैं।

https://youtu.be/QIxM2m9rT0o

संतपुरा रोड, एमएसडी स्कूल (की encroachment से 300 मीटर पहले), बठिंडा.

1 Like

this is real pic of india

1 Like

इसी संतपूरा रोड पर थोड़ी सी आगे जाकर, ख़ुद के अंदर की तो छोड़ो, सड़क पर ही कब्ज़ा कर रहा है।

होटल dolphin नाम है इसका (अब कोई नया नाम रखा गया है)

और इसके साथ ही बिना फ्रंट छोड़े एक और लेंटेर ड़ल रहा है।
(इसी टॉपिक में ऊपर, सबसे पे‍हली पोस्ट में किसी गरीब का, इसी रोड पर, जगह छोड़ कर न बनाने के लिए लेंटेर गिरा गए थे)

हैलो बठिंडा!