Good thoughts

पीप ल का पेड़ लगाने और उसकी पूजा करने का मकसद क्या है? मै आपको इसका बैज्ञानिक तर्क बताना चाहती हूं।पहले तो सनातन धर्म में पेड़ों की,नदियों की पूजा का मतलब उनकी इज्जत (respect) करना है।क्योंकि हमारे पूर्वज इनके महत्व को पहले ही समझ चुके थे।जिस को हम लोग आज समझे है।पहले लोग ज्यादा पड़े लिखे नहीं थे।उनको समझाने के लिए इसे धार्मिक रूप दे दिया जाता था।पीपल के पेड़ का महतब ज्यादा इसलिए है क्योंकि पीपल का पेड़ ही दो टाईम आक्सीजन देता हैं।इसलिए जब हम उस पर जल चढ़ाते हैं तो बो ज्यादा आक्सीजन छोड़ता है। लेकिन दुख की बात है कि पीपल के पेड़ ख़तम हो रहे हैं।अगर हम आने बाली पीढ़ी के लिए आक्सीजन का इंतजाम करना चाहते हैं तो हमें ऐसे पेड़ लगाने होंगे।पीपल ,बोहड़ नीम आदि पेड़ बहुत सारी दवाइयां बनाने भी काम आते है। ओम ज्योतिष केंद्र की ओर से छोटी सी जानकारी।

1 Like

हैलो बठिंडा