फ्री वेबसाईट। बिल्कुल फ्री।


क्या आपका हेर ड्रेसिंग का छोटा सा बिजनस है?

या आपकी परचून की शॉप है?
image
या आप activa/मोटर साइकिल रिपेर करते हैं?

या किसी प्रोडक्ट direct selling, marketing का बिजनस है?

या कोई भी ट्यूशन/ट्रैनिंग आदि देते हैं? या कोई थेरापी आदि देते हैं?

या कोई भी और छोटा मोटा काम है?
image

तो अपने बिजनस को गूगल पर लेकर आईए। क्यूंकी यूं समझिए की जो कारोबार गूगल सर्च में अपीर नहीं होता, वो कारोबार है ही नहीं।

क्या आप अपने लिए एक फ्री वेबसाईट बनवाना चाहते हैं? बिल्कुल फ्री? उसके लिए आपको बस हुमसे एक बार मिलना होगा।
बठिंडा हेल्पर आपके लिए एक बिल्कुल फ्री वेबसाईट बना कर दे सकता है, जिसके लिए न आपने शुरू में कोई पैसे देने हैं, न वार्षिक।

लेकिन अगर आप कुछ एक्स्ट्रा खर्च करके एक्स्ट्रा चीज चाहते हैं तो उसके लिए निम्न एक्स्ट्रा बेनेफिट मिल सकते हैं।

  • उसमें डोमेन नेम, (जैसे की बठिंडा हेल्पर.कॉम) एक साधारण सा होगा। लेकिन अगर आप अपनी पसंद का डोमेन नेम खरीदना चाहते हैं, अपने खुद के बिजनस के नाम से मिलता जुलता, तो फिर वो आप खुद खरीद सकते हैं। वो 200 रूपी वार्षिक से शुरू होकर जीतने मर्जी महंगे खरीद लो) ।
  • उसमें वेबसाईट भी सिम्पल सी होगी। यानी आपकी बेसिक जानकारी। आपकी बेसिक लोकैशन। आपके नंबर आदि। आपके बिजनस की टाइमिंग आदि। उसमें रोज रोज कोई बदलाव नहीं होंगे, सिर्फ गलती सुधारी जा सकेगी। लेकिन गूगल की सर्च में आपका वेबसाईट अपीर होगा। सामने आएगा।
  • इससे नेक्स्ट स्टेप भी ऊपर वाली चीज होगी, लेकिन उसमें आप रोज रोज नई जानकारी डाल सकेंगे। उसके लिए आपको सिर्फ एक बार 2500 रूपीस देने होंगे, लेकिन बाद में वार्षिक, या मासिक खर्च कोई नहीं होगा।
  • लेकिन यदि आप उससे बढ़िया डिजाइन और कुछ एक्स्ट्रा मेनू, पेजस आदि चाहते हैं तो फिर उसके लिए एक वर्ड प्रेस वेबसाईट बनेगी, जिसके 2500 रूपीस डिज़ाइनिंग शुरू में लगेंगे। और 200 रूपीस महिना होस्टिंग खर्च अलग से आता ही रहेगा। जब तक वेबसाईट चलेगा।
  • और यदि आप साथ में वो बनाना सीखना भी चाहते हैं, तो ऊपर दिए सभी खर्चों के इलावा 2500 से लेकर 10 हजार तक अलग से देने पड़ सकते हैं। मैं आपको 1 हफ्ते में सब सीख दूंगा।

लेकिन यदि आप 1 भी रुपए नहीँ खर्चा करना चाहते तो भी हम आपके लिए एक फ्री वेबसाईट बनाकर दे देंगे। simple होगा। लेकिन बिल्कुल फ्री होगा।

1 Like

Bobby g maine bnwani hai lockdown khulne do i will visit

1 Like

हैलो बठिंडा!