कैसे बठिंडा पुलिस हरएक आवाज को दबाने में लगी हुई है।

माता रानी गली, बठिंडा की एक लड़की रजिन्द्रा कॉलेज में पड़ती थी।
उसका साथी, दीपक कुमार, उसको लव में डलाने में कामयाब हो गया।

लेकिन जब लड़की अपने घर वालों से ऊपर से होकर शादी करने वाली थी, तो दीपक ने उसको बताया की वो दीपक खान, मुसलमान है, लेकिन उसके लिए हिन्दू बनने के लिए तयार है।
उसने कोर्ट में एक ऐफिडेविट दिया की वो आज के बाद हिन्दू है।
और एक दूसरा ऐफिडेविट दिया की दोनों ने शादी कर ली है।

लड़की के माँ बाप खूब तड़पे की लड़की तू ऐसा मत कर।
यह सभी बातें 10 मई, 2020 के आसपास की हैं।


लेकिन लड़की नहीं मानी और शादी कर ली। और कोर्ट में यह दिखा कर की हिन्दू समाज उसके पीछे पड़ा है, पुलिस पर्टेक्शन हासिल करने में भी कामयाब हो गई।
कल, यानि 25 मई, 2020 को लड़की बाहर घूम घूमा कर वापिस बठिंडा जोगी नगर अपने ससुराल आई। लड़की के माँ बाप दो-चार रिश्तेदारों को लेकर लड़की को मिलने चले गए। वहाँ पर, यह बताया जा रहा है की मुस्लिम लोगों ने इकठे होकर लड़की वालों की खूब धुनाई की।

इस सारे मामले में वहप/vhp और बीजेपी आदि के लोकल लीडर लड़की वालों की हेल्प के लिए आगे आ गए।

अब देखिए पुलिस का जहूरा। उन्होंने लड़की को यह स्टैट्मन्ट देने के लिए मना लिया की उसके माँ बाप, वहप लीडर सुखपाल सरा के उकसावे में आकर उससे मिलने आए थे, और यह सारा दंगा हुआ।

और पुलिस वालों ने, जिन्होंने लड़की के माँ बाप और रिश्तेदारों के खिलाफ आगे बताई धाराओं में मुकदमा दर्ज करके उनको अरेस्ट कर लिया था, उन सभी को छोड़ कर अकेले vhp के लीडर सुखपाल सरा के पीछे पड़ गई। और आज सुबह सुखपाल जी को, जो इतने बड़े समाज सेवी हैं की सारा बठिंडा मुसीबत में उनके पास जाता है, घर से उठा कर अरेस्ट करके ले आई। पुलिस की गाड़ी में, फुल बेइज्जती के साथ।

Sukhpal सरा प़र लगायी हुई धाराएं 452, 406, 427, 506, 148, 149, 120b

हैलो बठिंडा