अपनी बात को लिनीअर चैट से बाहर भी प्रोमोट करें। ताकि वो गुम न हो।

व्हाट्सप्प और टेलग्रैम जैसी लिनीअर और इन्स्टेन्ट चैट msgs के कुछ बेनएफिट्स हैं तो कुछ नुकसान भी।
यह आपके पर्पस पर निर्भर करता है की आप जो कहना चाहते हैं उसके लिए ऐसी इन्स्टेन्ट चैट एप उपयुक्त हैं या नहीं।

इसके लिए मेरा एक सुझाव है।
यदि आप बठिंडा वासियों, इस ग्रुप मेम्बर्स को कुछ कहना चाहते हैं जिसकी वैल्यू केवल अभी ही नहीं, बाद में भी है, आने वाले दिनों में भी है।

तो ऐसे msg को आप बठिंडा हेल्पर [ BathindaHelper.com ] पर डालें।

उससे वो न केवल बठिंडा हेल्पर के टेलग्रैम ग्रुप के सभी मेम्बर्स के पास तो जाएगा ही, साथी ही गूगल पर भी सर्च के काबिल हो जाएगा। और बाद में भी वो msg जीवत रहेगा। जब मर्जी उस msg के जबाब में कोई दूसरा मेम्बर कोई भी बात रखेगा, तो तीसरा मेम्बर वो बात पढ़ पाएगा। यानि msgs की वो लड़ी अलग से मोजूद रहेगी। गुम नहीं होगी।

बॉबी जोफ़न

हैलो बठिंडा