बठिंडा में लॉटरी का काम के बंद होने या चालू होने के पीछे कौन है? कैसे यह चालू हो जाता है अपने आप और कैसे बंद?

बठिंडा में पुलिस जब चाहे लॉटरी का काम बंद करवा देती है। जबकि कानून लॉटरी के काम की इजाजत देता है।
अगर इसको गैर कानूनी बनाना है, अगर यह गैर कानूनी है तो फिर बाकी सब जगह पर कैसे चल रहा है?
या कहीं बठिंडा के लिए अलग से सविधान तो नहीं बन गया है कोई?

तो क्या पुलिस कानून से भी ऊपर है? या पुलिस को कुछ और चाहिए?

4 Likes

कई दिन पहले फ़ेस बुक पर एक पोस्ट देखी थी, की औरेंगजेब के वक़्त में एक ‘जज़िया’ टैक्स लगा करता था।

उसी तरह से अब भटिंडा, पंजाब में ‘जोजों’ टैक्स लगता है। क्या यह उसी से संभन्धित तो नहीं है कुछ?

3 Likes

Sir ji ਪੁਲੀਸ ਵਾਲੇ ਆਪਣਾਂ ਕਮਿਸ਼ਨ ਚਹੁੰਦੇ ਹੋਣਗੇ ਬਸ ਇਸ ਲਈ ਆਹ ਸਭ ਡਰਾਮਾ ਕਰਦੇ ਹਨ।

2 Likes

हैलो बठिंडा!